बहन पल्लवी के खिलाफ चुनावी प्रचार कर रहीं अनुप्रिया पटेल

रमाकांत वर्मा
ब्यूरो रिपोर्ट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव दिलचस्प मोड़ पर आ पहुंचा है। सिराथू सीट से चुनाव लड़ रहे उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के लिए अपना दल (सोनेलाल) प्रमुख अनुप्रिया पटेल ने सोमवार को प्रचार किया। इस सीट से केशव प्रसाद मौर्य के खिलाफ सपा उम्मीदवार और अनुप्रिया पटेल की बहन पल्लवी पटेल चुनावी मैदान में हैं। ऐसे में अनुप्रिया पटेल ने अपनी बहन पल्लवी पटेल पर पिता सोनेलाल पटेल के सिद्धांतों से समझौता करने का आरोप लगाया।

अनुप्रिया पटेल ने कहा कि चुनाव में कोई भी कहीं से लड़ सकता है लेकिन मेरा अपनी बड़ी बहन से सवाल है कि अगर पिता के प्रति प्रतिबद्धता थी तो फिर अपने चुनाव चिह्न से चुनाव क्यों नहीं लड़ा ? समाजवादी पार्टी के चिह्न पर क्यों चुनाव लड़ रही हैं। यहां पर बात पिता के सिद्धांत और विचारधारा की है। मेरी यात्रा 12 सालों की है और हमने कभी भी उनके सिद्धांतों के साथ समझौता नहीं किया है। उन्होंने कहा कि मेरे पिता आज तक कभी भी किसी दूसरी पार्टी के चुनाव चिह्न पर चुनाव नहीं लड़े हैं तो फिर उनकी बेटी कैसे साइकिल के चुनाव चिह्न पर चुनाव लड़ सकती है। इसी बीच अनुप्रिया पटेल ने स्पष्ट किया कि वो किसी के खिलाफ चुनाव प्रचार करने के लिए सिराथू नहीं आई हूं। मैं एनडीए गठबंधन का हिस्सा हूं और अपनी पार्टी के लिए प्रचार करने आई हूं।

बहुजन नायक कांशीराम के सहयोगी रहे सोनेलाल पटेल ने अपना दल का गठन किया था और वो पूर्वांचल में मौजूद कुर्मी समुदाय के लोकप्रिय नेता थे। लेकिन उनके निधन के बाद बेटी अनुप्रिया पटेल मां कृष्णा पटेल को पार्टी को मजबूत करने में मदद करती रहीं। लेकिन फिर अनुप्रिया पटेल के बढ़ते कद के बाद पार्टी दो फाड़ हो गई और अनुप्रिया पटेल ने साल 2016 में अपना दल (सोनेवाल) का गठन किया। उत्तर प्रदेश के 6 फीसदी कुर्मी वोटबैंक का प्रतिनिधित्व अनुप्रिया पटेल और कृष्णा पटेल दोनों ही करती हैं।

आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण में कौशांबी में 27 फरवरी को मतदान होगा। केशव प्रसाद मौर्य जो खुद के सिराथू का पुत्र बताते हैं, उनका मुकाबला अनुप्रिया पटेल की बहन पल्लवी पटेल से है। दिलचस्प बात तो यह है कि पल्लवी पटेल खुद को सिराथू की बहू बताती हैं।

केशव प्रसाद मौर्य ने नुक्कड़ नाटक के लिए चुनाव प्रचार करने के लिए दिल्ली से थिएटर ग्रुप के लोगों को सिराथू बुलाया है। आपको बता दें कि एक दर्जन से ज्यादा कलाकार विभिन्न स्थानों पर नुक्कड़ नाटक के जरिए सिराथू की जनता को केशव प्रसाद मौर्य और भाजपा सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों के बारे में जानकारी दे रहे हैं। थिएटर ग्रुप में 12 सदस्य हैं और वे छह-छह के ग्रुप्स में अगल-अलग स्थानों पर नाटक करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.