चुनाव प्रचार के दौरान बड़े हादसे का शिकार होते-होते बचीं प्रियंका

नीरज शर्मा
ब्यूरो रिपोर्ट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के प्रचार के आखिरी दिन 8 फरवरी को कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश मामलों की प्रभारी प्रियंका गांधी वाद्रा ने मेरठ, आगरा और मथुरा जिलों में रोड शो में हिस्सा लिया तथा उप्र की जनता पर विश्वास जताते हुए कहा कि उनकी पार्टी की मेहनत रंग लाएगी। मथुरा में शोड शो के दौरान प्रियंका गांधी के काफिले पर अचानक एक तार गिर गयी, जिससे वह बाल बाल बचीं। हादसा बड़ा भी हो सकता था अगर सही समय पर उस खतरे को नहीं टाला जाता लेकिन समय से तार से प्रियंका गांधी को सुरक्षा में लगे लोगों ने बचा लिया।

घटना कुछ इस प्रकार हुई जब प्रियंका गांधी का काफिला चुनाव प्रचार करते हुए मथुरा के  छत्ता बाजार के अंदर से गुजर रहा था। तभी बिजली का एक तार प्रियंका गांधी के चेहरे से टकराने वाला था क्योंकि वहा बहुत कम जगह थी और काफिला गलियों के बीच से निकल रहा था। सुरक्षाकर्मियों ने बिजली के तार को वक्त रहते पकड़ कर हटा दिया।

आपको बता दें कि प्रियंका गांधी लगातर योगी सरकार पर निशाना साध रही हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ही विकास, महिला अधिकार, किसानों की स्थिति, बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के रोडमैप के साथ उनके मुद्दे उठा रही है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस मुख्‍यालय से मंगलवार को जारी एक बयान के अनुसार, प्रियंका गांधी वाद्रा ने अपने रोड शो में मतदाताओं से उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाने के लिए पार्टी को वोट देने की अपील की। राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के साथ प्रियंका गांधी मेरठ के हस्तिनापुर पहुंचीं और जैन साध्वी ज्ञानमती माताजी का आशीर्वाद लिया। बयान के अनुसार प्रियंका के साथ एक स्मृति साझा करते हुए माताजी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू, राजीव गांधी और इंदिरा गांधी का हस्तिनापुर से विशेष लगाव था। मवाना पहुंचने पर प्रियंका वाद्रा और सचिन पायलट कांग्रेस प्रत्याशी अर्चना गौतम के साथ ट्रैक्टर पर सवार हुए और लोगों से वोट मांगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.